शनिवार, 6 फ़रवरी 2010

माइक्रोसॉफ़्ट का हिन्दी लिखने वाला औज़ार

कुछ समय से मैं इसका उपयोग करके हिन्दी लिख रहा हूँ . टास्क बार में एक बटन को क्लिक करके आप हिन्दी या अंग्रेजी याने देवनागरी या रोमन में लिख सकते हैं.
आज इसमे एक नयी चीज दिखाई दी , एक वर्चुअल की बोर्ड जिसकी सहायता से आप कठिन शब्दो को भी लिख सकते हैं . यह अभी बीटा रूप में है याने अभी इसपर काम चल ही रहा है .
विंडोज एक्सपी में इसे उपयोग करने का तरीका नीचे दिया है . अन्य वर्शन में उपयोग करने  के लिए इस लिंक का उपयोग  करें
Microsoft Indic Language Input Tool 
Instructions for Windows XP
Instructions for Windows Vista
Instructions for Windows 7


Windows XP

Enabling Indic Language Support

  1. Click Start, click Control Panel, and then double-click Regional and Language Options.
  2. On the Languages tab, select the Install files for complex script and right-to-left languages (including Thai) check box.
  3. Click on Details.
  4. On the Advanced tab, select the Extend support of advanced text services to all programs check box.
  5. Click OK to dismiss the Text Services and Input Languages window.
  6. Click OK to dismiss the Regional and Language Options window.
    You may be asked to insert the Windows XP installation media during this process.
    A restart may be necessary to complete the process.

Using Microsoft Indic Language Input Tool ("ILIT")

Do the following to use Microsoft ILIT in any application, such as Microsoft Word:
  1. Open the application in which you would like to enter Indic text.
  2. Change the language using the language bar, which typically appears in the taskbar as follows.
  3. The language bar will now show the current language.
  4. You can now start typing in English and whatever you type automatically gets transliterated after a word-breaking character like a space, comma, etc. is entered. Note that this language setting is per application. You may have to repeat the steps above for each application you want to use Microsoft ILIT in.

Turning on the language bar

If you do not see the language bar in the task bar (at the bottom of the desktop) or floating on the desktop please do the following:
  1. Click Start, click Control Panel, and then double-click Regional and Language Options.
  2. On the Languages tab, under Text services and input languages, click Details.
  3. Under Preferences, click Language Bar.
  4. Select the Show the Language bar on the desktop check box.

15 टिप्‍पणियां:

संगीता पुरी ने कहा…

अच्‍छी जानकारी .. सेव कर लिया यह पेज .. प्रयोग कर देखती हूं !!

जी.के. अवधिया ने कहा…

सुन्दर जानकारी!

जानकारी देने के लिये धन्यवाद डॉक्टर साहेब!

रचना ने कहा…

आप से एक प्रश्न हैं और वो भी इसलिये क्युकी आप नए व्यक्तिगत मेल भेजी थी कुछ दिन पहले । आप नए मुझे इस लिंक http://sanjeettripathi.blogspot.com/2010/01/blog-post_26.html पर देवनागरी मे लिखने के लिये कहा था उसके बाद आप nae मेल भी भेजी जबकि संजीत कि kyaiin टिप्पणी मैने रोमन भाषा मे देखी हैं
http://mithileshdubey.blogspot.com/2010/02/blog-post_05.html

there are many more links if you want i can get them for you

क्या किसी सार्वजनिक मंच पर आप ne उनको भी रोमन मे टिप्पणी ना लिखने के लिये "विनम्र आग्रह !!!" किया हैं या उनको भी मेल भेजी हैं कि अगर ब्लॉग देव नगरी मे हैं तो कमेन्ट रोमन मे क्यूँ ? अगर हाँ तो मेरा भी विनम्र आग्रह हैं वो लिंक उपलब्ध करा दे , अन्यथा मान ले कि आप मेरे प्रति पूर्वाग्रह से ग्रसित थे जब आप ने वो कमेन्ट दिया था क्युकी मै उस कमेन्ट me पूर्वाग्रह देख रही हूँ जिस कि पुष्टि आप कि मेल भी करती थी

दिगम्बर नासवा ने कहा…

जानकारी अच्छी है ...... उपयोग करके देखते हैं ...........

रचना ने कहा…

apnae kament kae jwaab kaa intezaar kar rhaeen hun baad mae apnae blogpar bhi yae mudda uthaungi soch rahee thee aap kaa view point mil jaaye taaki baad mae yae naa ho ki kyun likha

डॉ महेश सिन्हा ने कहा…

@ रचना जी
आप अपनी बात पूरी कर लें लिंक भेज दीजिएगा

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

बहुत सुंदर जानकारी मिली.

रामराम.

S B Tamare ने कहा…

जनाब डाक्टर साब ,
निहायत ही उम्दा लेख दिया आपने जो हर मायनों में ब्लोगरो के लिए फायदेमंद है /
उम्मीद करता हूँ आयन्दा भी एसे लेख अभी और आपकी ओर से पढने मिलते रहेंगे /
थैंक्स/

संजीव तिवारी .. Sanjeeva Tiwari ने कहा…

बहुत मेहनत से तैयार किया है डाक्टर साहब आपने इसे, इससे हिन्दी ब्लॉगरो को माइक्रोसाफ्ट इंडीक इंस्टाल करने मे सहोलियत होगी.

इसकी कडी छत्तीसगढ व अन्य ब्लॉगो मे भी लगाये.
पुन: धन्यवाद.

डॉ महेश सिन्हा ने कहा…

@ संजीव जी
थोड़ा सा कॉपी पेस्ट किया है :)

धन्यवाद सभी को

राजीव कुमार ने कहा…

हिंदी ब्लॉगरों के लिए अच्छी जानकारी है। कई लोगों को राहत मिलेगी... इस्तेमाल करके देखना पड़ेगा।

venus kesari ने कहा…

हम भी कुछ दिन से इस्तेमाल कर रहे है झकाझक काम कर रहा है

मज़ा आ गया इसे इस्तेमाल कर के

DR. ANWER JAMAL ने कहा…

सराहनीय सेवा

ज्ञानदत्त पाण्डेय Gyandutt Pandey ने कहा…

मैने तो इसका भी प्रयोग किया, गूगल आईएमई का और इण्डिक आईएमई का भी। पर घूम फिर कर बरहा पर लौट आया।
आपने बहुत श्रमसाध्य पोस्ट लिखी है। धन्यवाद।

अल्पना वर्मा ने कहा…

Useful post hai.
abhaar.