शुक्रवार, 26 फ़रवरी 2010

राज खुल गया लोग क्यों नशा करते हैं ?

अमेरिका के दो राज्यों जार्जिया और टेक्सस के मनोवैज्ञानिकों ने एक प्रयोग में पाया की पुरुष जब स्त्री का अवर ग्लास(रेत की घड़ी) जैसा फिगर देखता है तो उसके दिमाग के एक विशेष क्षेत्र में प्रतिक्रिया होती है . यह प्रतिक्रिया बेडौल लोगों को देखने से नहीं होती . इसी तरह की प्रतिक्रिया स्त्रियों में  होती है चौड़े कंधे वाले सुडौल पुरुष को देखकर.

आप कहेंगे इससे नशे का क्या संबंध ?

तो सुनिए व्यक्ति जब मदिरा का गिलास देखता है या अन्य नशा करता है तो दिमाग के उसी हिस्से में वैसी ही प्रतिक्रिया होती है, जैसी की ऊपर बताई गयी है !

खुल गया न राज , पिछले नहीं इस जन्म का ही :)

11 टिप्‍पणियां:

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

वाह ये राज भी आज पता चला.

रामराम.

राज भाटिय़ा ने कहा…

मजेदार जी, वेसे ऊपर वाला नशा ही अच्छा है

डॉ टी एस दराल ने कहा…

महेश जी , प्रयोग का रेफेरेंस भी दे देते तो और भी अच्छा होता।

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" ने कहा…

जरूर इन वैज्ञानिकों नें ये खोज शराब के नशे में की होगी :-)

रवीन्द्र प्रभात ने कहा…

आप और आपके परिवार को होली की शुभकामनाएँ...

kshama ने कहा…

Holi mubarak ho!

दिगम्बर नासवा ने कहा…

ये मालूम नही था ....
आपको और आपके समस्त परिवार को होली की शुभ-कामनाएँ ...

श्याम कोरी 'उदय' ने कहा…

...रोचक जानकारी !!!

अल्पना वर्मा ने कहा…

ajab gajab researches!

होली की बहुत बहुत शुभकामनाएं

pratibha ने कहा…

आपको और आपके परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनाएं।

Manish ने कहा…

समझ गए, तभी तो कहूं....:) :)