बुधवार, 2 जून 2010

हिन्दी ब्लाग जगत के महारथियों पर बुरी गृह दशा

पहले ज्ञान दत्त जी अस्पताल के हवाले हुए

 और अब समीर लाल जी घायल

मेरी भी गरदन में कुछ दिनो से दर्द है . आउच ..............

12 टिप्‍पणियां:

nadeem ने कहा…

Jaankar afsos Hua.. Ummeed hai jald change ho jayenge..dono...

डा० अमर कुमार ने कहा…


मॉडरेटेड कमेन्ट:
महोदय, एक बुरी ख़बर और भी है..
मैंनें आज से ब्लॉगिंग पुनः आरँभ करने का निर्णय लिया है
.

Rajiv ने कहा…

बुरी गृह दशा?
गृह की सफाई-वफाई नहीं करते क्या?

AlbelaKhatri.com ने कहा…

sab achha ho.

shubh kaamnaa

Shekhar Kumawat ने कहा…

jan kar dukh huwa

ham unke swath ki kamna karte he

कुमार राधारमण ने कहा…

जूनियर ब्लॉगर्स एसोसिएशन के अस्तित्व में आने से पहले ही ये सब क्या शुरू हो गया है?

राज भाटिय़ा ने कहा…

मेरे सर मै दर्द था बीबी ने पांच चार मिन्ट दवाया ठीक हो गया, आप भी अपनी बीबी से बोले गरदन दबाने के लिये कल तक ठीक हो जायेगी:)
अरे नही मै मजाक कर रहा हुं बुरा ना माने...गर्दन मै हवा लग गई होगी गर्म ठंडी एक दो दिन मै ठीक हो जायेगी अपने आप

Udan Tashtari ने कहा…

समीर लाल तो फिट हो लिए..आप भी संभालो अपने आपको डॉक्टर साहब!! शुभकामना...हमारी कमर में दर्द था, हमने कमर दबवा ली थी..आप भी गरदन......:)सलाह मात्र है

डॉ टी एस दराल ने कहा…

ऐसा क्या ?

Arvind Mishra ने कहा…

चलिए महारथी पहचान का एक क्राईटेरिया मिल गया !

vinay ने कहा…

प्रभु से आपके स्वास्थय लाभ के लिये प्रार्थना करतें हैं।

चण्डीदत्त शुक्ल ने कहा…

मुझे लगता है...गरदन की जगह गला कर लें...जल्दी आराम मिलेगा...हा हा हा