सोमवार, 15 मार्च 2010

देश के पुरुष नेताओं ने लिंग परिवर्तन कराने का निर्णय लिया

महिला आरक्षण के असर से चिंतित नेताओं की एक सर्वदलीय बैठक हुई . जिसमे इस विधेयक का आगे पुरजोर विरोध करने का निर्णय लिया गया . दो बड़ी पार्टियों के एकजुट होकर इस निर्णय से परेशान नेताओं ने एक और प्रस्ताव पास किया की अगर यह आरक्षण आ ही गया तो अपनी रोजी रोटी बचाने के लिए उनके पास लिंग परिवर्तन के अलावा अन्य कोई और रास्ता नहीं है .

छत्तीसगढ़ के काँग्रेस नेता चरणदास महंत ने उन्हे पूरा सहयोग देने का आस्वाशन दिया है . यहाँ यह ध्यान  देने वाली बात है की श्री महंत किन्नरों की संस्था के सरक्षक हैं .उन्होने छत्तीसगढ़ के विख्यात प्लास्टिक सर्जन से भी बात कर ली है जो इस काम में महारत रखते हैं . नेताओं को महंत ने विश्वास दिलाया है की उन्हे इस ऑपरेशन में ज्यादा से ज्यादा छूट दिलवाई जाएगी एवं राजकीय सहायता भी उपलब्ध कराई जाएगी . यह जानकारी मिलने पर नेताओं ने चैन के साँस ली है .



सौजन्य : नवभारत रायपुर

10 टिप्‍पणियां:

पी.सी.गोदियाल ने कहा…

हेराम ! अब किन्नर भी लिंग परिवर्तन करायेंगे ?????

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

ये अच्छा हुआ, ताऊ लोगो की चिंता दूर हुई.

रामराम.

राज भाटिय़ा ने कहा…

काँग्रेस नेता चरणदास महंत जी तुसी महान हो जी, आप का प्यार इस कुर्सी से सच्चा है :)

Udan Tashtari ने कहा…

धन्य भये!!

डॉ टी एस दराल ने कहा…

चिंताज़नक विषय।

S B Tamare ने कहा…

कृपानिधान !
बड़ी सनसनीखेज और रोचक जानकारी दी आपने लेकिन एक दुश्वारी है जिसपर शायद निगाह नहीं गयी आपकी कि ''नेता''एक दो पाया प्राणी है जो ना तो किसी किस्म के लिंग से ताल्लुक रखता है और ना ही इसकी कोइ कौम होती है , ये तो अपनी माँ का जाया एक इकलौता अपने ही किस्म का होता है जो जिस मुल्क का खाता है उसी के पिछवाड़े पर लात भी चलाता है फिर भला ऐसी तासीर वालो को लिंग परिवर्तन से क्या खोया-पाया /
अच्छी पोस्ट के लिए शुक्रिया !

शरद कोकास ने कहा…

अच्छा व्यंग्य है ।

राजीव कुमार ने कहा…

ऐसे भी ज्यादातर नेता केवल विज्ञान के नजरिए से ही पुरूष कहलाने के योग्य हैं!!! अब ये पर्दा भी नहीं रहेगा, अच्छा है कम से कम अंदर बाहर सब से एक ही तरह के तो रहेंगे!!!

pratibha ने कहा…

रोचक जानकारी है, मैं राजीवजी के विचारों से सहमत हूं।

pratibha ने कहा…

रोचक जानकारी है, मैं राजीवजी के विचारों से सहमत हूं।