गुरुवार, 8 अप्रैल 2010

बोये पेड़ बबूल का तो आम कहाँ से होय - नक्सल्वाद का सच

यहाँ देखिये गृह मंत्री का बयान और नक्सलवाद का सच . आज यही अजित जोगी , रमन सिंह सरकार को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं इसके लिए .

सौजन्य : नवभारत रायपुर 

11 टिप्‍पणियां:

के.आर.रमण ने कहा…

कड़वे सच की ओर ध्यानाकर्षण।

kunwarji's ने कहा…

बहुतो की आँखे और कईयों की पोल खोलता ये लेख!बहुत पहले की लापरवाही है,ये तो सही है है,पर अब लापरवाही क्यों?

कुंवर जी,

Sanjeet Tripathi ने कहा…

vakai satik likha hai

Anil Pusadkar ने कहा…

नक्स्लवाद देन ही कांग्रेस की है.

डॉ टी एस दराल ने कहा…

सही है ।

दिगम्बर नासवा ने कहा…

Bas ilzaam hi ilzaam .. koi sach nahi dekhna chaahta ...

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

एक बौद्धिक मुकदमा दायर हो ।

ज्ञानदत्त पाण्डेय Gyandutt Pandey ने कहा…

हफ्ते भर में पुराना पड़ जायेगा यह विषय! :-(

राजीव कुमार ने कहा…

आरोपों और बयानों से बात नहीं बनेगी... किसकी गलती थी, किसने चूक की... ऐसे सवालों के जवाब ढूंढने से बेहतर है समस्या की हल पर बात करें। सरकार बस बयानबाजी कर लोगों को उलझा देती और फिर कुछ दिन बाद लोग सबकुछ भूल जाते हैं।

रंजना ने कहा…

बिलकुल सही कहा...
बीज बोया पानी पटाया अनुकूल परिस्थतियाँ दी ताकि यह भली प्रकार पनप पायें...अब तो विनाश का फसल तैयार है....

ई-गुरु राजीव ने कहा…

ये किसी दिन बहुत ही पिटेगा, अभी उत्तर प्रदेश में हुए इन्कौन्टर को गलत बता रहा था, अब नक्सालियों को समर्थन कर रहा है !!
मेरे भारतवर्ष देख लो कि तुम्हारे नेता कौन हैं !
और क्या कर रहे हैं !
ध्यान से वोट दो भाई लोगों !
और वोट दो भाई लोगों !