मंगलवार, 15 दिसंबर 2009

तथाकथित मानवाधिकारियों को जनता का जवाब

तथाकथित  मानवाधिकारियों को जनता का जवाब




सौजन्य : दैनिक नवभारत , रायपुर

2 टिप्‍पणियां:

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ ने कहा…

बढिया है। यह आग जलती रहे।
------------------
छोटी सी गल्ती, जो बड़े-बड़े ब्लॉगर करते हैं।
धरती का हर बाशिंदा महफ़ूज़ रहे, खुशहाल रहे।

संजीव तिवारी .. Sanjeeva Tiwari ने कहा…

मावनवधिकार कार्यकर्ता सचमुच में कौंन हैं यह स्‍पष्‍ट करती कतरनों के लिए धन्‍यवाद.