गुरुवार, 17 दिसंबर 2009

छत्तीसगढ़ वालों संघर्ष करो हम नक्सलवाद के खिलाफ हैं

छत्तीसगढ़ वालों संघर्ष  करो हम नक्सलवाद के खिलाफ हैं
समय आ गया है तथाकथित    मानवाधिकारियों को बताने का कि छोटी जगहों में बैठे लोग बेवकूफ नहीं हैं . जिन्हें बड़े शहरों में बैठे देशद्रोही बेवकूफ बनाते रहें

4 टिप्‍पणियां:

Ram Bansal, the Theosoph ने कहा…

Naxalism is not the cause which may be opposed. It is an effect and can be tackled at its source only. Traitors sitting in big places are the real source of naxalism.

cmpershad ने कहा…

यदि नक्सल बनने को कारण बता कर जस्टिफ़ाई करें तो चम्बल घाटी के डाकू को क्यों कोसें ?

संजीव तिवारी .. Sanjeeva Tiwari ने कहा…

जैसे नक्‍सलवाद भटक गया है अपने मूल मुद्दों से वैसे ही मानवाधिकार वाद भी अपने मूल कार्यों से विमुख हो गया है.

Murari Pareek ने कहा…

sangharsh to sabhi karne ki aawsyaktaa hai par pahal kaun kare!!!